ताजा खबर

दैनिक भास्कर के तेवर वाली पत्रकारिता सरकार को नहीं आयी रास, आयकर विभाग की छापेमारी

Prime Today News | News Desk | Dainik Bhaskar | देश के सबसे बड़े समाचार समूहों में से एक दैनिक भास्कर (Dainik Bhaskar) के कई राज्यों के दफ्तरों पर आयकर विभाग (Income Tax) ने एक साथ छापेमारी की है | प्राप्त जानकारी के अनुसार समाचार पत्र दैनिक भास्कर के भोपाल, अहमदाबाद और जयपुर के दफ्तरों में आयकर विभाग की यह छापेमारी हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सुधीर अग्रवाल सहित दैनिक भाष्कर (Dainik Bhaskar) के तीनों समूह मालिकों के दफ्तरों पर भी छापे पड़े हैं। इसी बीच एक खबर यह भी सामने आ रही है कि दैनिक भाष्कर से जुड़े दफ्तरों पर दिल्ली में भी आयकर विभाग की छापेमारी की गयी है |

आयकर विभाग द्वारा समाचार पत्र दैनिक भास्कर (Dainik Bhaskar के कार्यालयों में अधिकारियों और कर्मचारियों को पूछताछ और आय-व्यय का ब्यौरा तलब करने के लिए आनन-फानन में दफ्तरों में बुलाया जा रहा है। बताया जा रहा है की आयकर विभाग की मुंबई की टीम ने यह छापेमारी की है। रिपोर्ट्स के अनुसार आयकर विभाग को दैनिक भास्कर के खिलाफ कुछ गड़बड़ी की शिकायत मिली थी और उसके बाद यह छापेमारी की गई है।

बता दें पिछले कुछ समय से दैनिक भास्कर (Dainik Bhaskar अपनी तेवर वाली पत्रकारिता के कारण हिंदी समाचार के क्षेत्र में काफी सुर्खियाँ बटोर रहा है | भास्कर ने हर एक मुद्दे को कवर किया चाहे वह कोरोनाकाल में गंगा तट पर शवों का मामला हो, या फिर कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मौतों का आंकड़ा या फिर स्पाइवेयर जासूसी कांड का मसला दैनिक भास्कर अपनी तीखी पत्रकारिता के कारण पिछले काफी समय से चर्चा में रहा |

Also Read: बसपा और आप के बाद अब ममता भी उतरी गुजरात की राजनीती में

संसद का मानसून सत्र जारी है ऐसे में दैनिक भास्कर (Dainik Bhaskar) के दफ्तरों पर छापेमारी से सियासत एक बार फिर गरमा सकती है | क्योंकि विपक्ष हमेशा सत्ताधारी पार्टी पर आरोप लगाती रहती है की सरकार बदले की भावना से कार्यवाही करती है और सरकार विपक्ष के आरोपों को सिरे से ख़ारिज कर देती है |

वैसे सरकारी एजेंसियों का कहीं छापा मारना या पूछताछ करना एक रूटीन वर्क माना जाता है, वह उनकी ड्यूटी का काम होता है | किसी गड़बड़ी की आशंका या संभावना होने पर जांच एजेंसियों या विभागीय एजेंसियों द्वारा कार्रवाई किया जाना उनके दायित्वों का हिस्सा होता है।

वैसे दैनिक भास्कर के दफ्तरों पर आयकर विभाग (Income Tax) की छापेमारी से सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा फूट रहा है और सरकार की निंदा करते हुए नजर आ रहे है |

वरिष्ठ पत्रकार पुन्य प्रसुन्न बाजपेयी ने सरकार पर तंज कसते हुए लिखा
“चापलूसी से ध्यान हटा….
छापे की दुर्धटना घटी…
अख़बार भास्कर समूह पर आईटी का छापा !!

हमारी खबरों को Whatsapp में पढ़ने के लिए क्लिक करे.  जुड़े हमारे Facebook से साथ ही सब्सक्राइब करे हमारा Youtube चैनल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button