नर्वल तहसील अंतर्गत बुधेड़ा ग्राम पंचायत में जी पी गौतम डी डी ओ,अमित ओमर एस डी एम नरवल लगाया गया चौपाल ग्रामीणों की सुनी गई समस्याये | नर्वल तहसील अंतर्गत बुधेड़ा ग्राम पंचायत में जी पी गौतम डी डी ओ,अमित ओमर एस डी एम नरवल लगाया गया चौपाल ग्रामीणों की सुनी गई समस्याये | नर्वल तहसील अंतर्गत बुधेड़ा ग्राम पंचायत में जी पी गौतम डी डी ओ,अमित ओमर एस डी एम नरवल लगाया गया चौपाल ग्रामीणों की सुनी गई समस्याये | नर्वल तहसील अंतर्गत बुधेड़ा ग्राम पंचायत में जी पी गौतम डी डी ओ,अमित ओमर एस डी एम नरवल लगाया गया चौपाल ग्रामीणों की सुनी गई समस्याये | कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का एक दिवसीय चुनावी कार्यक्रम अमेठी |
×
Hindi News >>>India >>> देश में फिर गूंजा मामला , ED ने सुरु की पूछताछ

Panama Papers:देश में फिर गूंजा मामला , ED ने सुरु की पूछताछ

Ash
Gaurav Kushwaha
Published: 2021-12-22 11:44:22
Panama Pepers: अभी हाल ही में ED ने फिल्म अभिनेत्री ऐश्वर्या राय से पनामा पेपर लीक मामले में 6 घंटे की लंबी पूछताछ की है इसी सिलसिले में बच्चन परिवार से अभिषेक बच्चन और बिग बी यानी अमिताभ बच्चन से भी पूछताछ होनी है। 

और साथ ही साथ भारत के 500 रईसों से भी मनी लांड्रिंग के मामले में पूछताछ होगी। आप लोगो ने पनामा पेपर लीक के बारे में सुना जरूर होगा लेकिन आज आप जानेंगे पनामा पेपर लीक है क्या ? 


जिसने पूरे देश समेत विश्व के 78 देशों के धन पतियों की नींद उड़ा रखी। वीडियो थोड़ा सा बड़ा होगा लेकिन जानकारी हमेशा के लिए आपकी हो जाएगी इसलिए वीडियो पूरा जरूर देखिएगा।


वैसे तो पनामा पेपर लीक बहुत छोटा सा नाम है लेकिन इस पेपर लीक की वजह से विश्व के 78 देश और उन में रहने वाले नेता अभिनेता ब्यूरोक्रेट्स बड़े-बड़े लोग आज इन्ही पेपर लीक की वजह से परेशान है।


सबसे पहले समझते है की आखिर ये पनामा पेपर लीक है क्या और क्यों इस पर भारत में ईडी अमिताभ बच्चन जैसे लोगों के घर पर समन देकर उनसे पूछताछ कर रही है।



उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका के मध्य स्थित में स्थित देश का नाम है पनामा और इस देश की राजधानी है पनामा सिटी । 1977 में पनामा सिटी में एक मोसेक फोंसेका Mossack Fonseca  नाम की कम्पनी ने जन्म लिया जिस के संपर्क में आते ही आपको अपनी सरकारों को कोई टैक्स नहीं देना होता था । इस कंपनी से विश्व की 2 लाख कंपनियों से ज्यादा जुड़ी हुई थी।  


ये आपके नाम पर फर्जी कंपनियां बनाते थे और उन पर कागजी तौर पर एम्पलाई भी रखते थे और यहां तक उन कंपनियों को साल दर साल चलाया भी जाता था । इस कंपनी का काम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनी लॉन्ड्रिंग करने का था । और सिर्फ कागजों में और उसी का फायदा उठाकर बड़े-बड़े लोग टैक्स भरने से बच जाते थे।


इस इस कंपनी ने लगभग पूरे विश्व के तमाम देशों को अपने कब्जे में किया और 42 देशों में अपनी फ्रेंचाइजी ओपन की हुई थी यानी कि आप सीधा सीधा यह समझिए इस कंपनी द्वारा लाखों-करोड़ों नहीं अरबों की चपत पूरे विश्व की सरकारों को लगा दी गई थी ।



जाहिर सी बात है हमारा देश हो या किसी का भी देश हो बड़े बड़े राजनेता , अभिनेता अभिनेत्रियां जिनके पास असीम दौलत,और खजाना है भारत से लेकर दुबई तक दुबई से लेकर रूस तक ब्रिटेन अमेरिका चीन मिस कई बड़े बड़े देश मेसी से लेकर रोनाल्डो तक बड़े-बड़े लोगों के नाम इस पनामा पेपर लीक में सामने आ चुके है ।



2016 में पनामा की इस मोजेक फोनसेका कंपनी में काम करने वाले किसी शख्स ने यहां से पूरे 40 साल के काले चिट्ठे को एक करोड़ दस लाख कॉपियां के रूप में चुराया और फिर उसकी डिजिटल कॉपी बनाकर जर्मनी के एक अखबार एसजेड को भेज दिया । वो चाहता तो इस जानकारी के अरबों रुपए जुटा सकता था लेकिन ऐसा ना करके उसने कुछ और किया ।



जर्मनी के इस अखबार को यह दस्तावेज मिले तब उसमें जो नाम थे उनको पढ़कर पत्रकार हैरान हो गए उन्हें लगने लगा था कि यह काम असल में उनके अकेले का नहीं है इसके बाद उन्होंने कई पत्रकारों से बात की कई संस्थानों से बात की जिसके बाद दुनिया भर से खोजी पत्रकारों की एक संस्था ICIJ ने कुल 78 देशों के 400 पत्रकारों को इसमें शामिल किया । भारत से इंडियन एक्सप्रेस अखबार ने इसमें हिस्सा लिया था ।



इन पत्रकारों का काम था ये जो भी दस्तावेज थे अपने अपने देश के हिसाब से इन्हें लेना और इनकी सत्यता की जांच करना । दोस्तों यह जांच 6 महीने तक चली और जब इसके बाद यह कागज देश की सरकारों की टेबल पर पहुंचे तो सरकारे पलट गई। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को इस्तीफा तक देना पड़ा रूस के प्रधानमंत्री तक इसकी आंच गई। 



जब भारत में यह पेपर ऑफिशियल तौर पर लाए गए तब देश में हड़कंप मच गया । मामला सुप्रीम कोर्ट गया एक जांच कमेटी बनाई गई और उसके बाद यह जांच सेंट्रल को दी गई जहां से ईडी ने इसे टेकओवर कर लिया।



ईडी माने इंफोर्समेंट डिपार्टमेंट देश में जितना भी अमीर शख्स है इसी एक विभाग से डरता है खौफ खाता है यह वह भी भाग है जिसके लिए अपने पास बड़े-बड़े वकील सकता है बड़े-बड़े टैक्स कंसलटेंट रखता है इसी विभाग के डर से ।



अब इसी कड़ी में भारत से 500 नाम इस पनामा पेपर लीक सामने निकल कर आए जिसमें अमिताभ बच्चन का पूरा परिवार शामिल है अमिताभ बच्चन साहब खुद बेटे अभिषेक बच्चन भी शामिल है उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय भी शामिल यानी कि मिसाल बनने वाले लोग भी टैक्स चोरी कर रहे है वो भी सालों से ।



गौतम अडानी के बड़े भाई का भी नाम इसमें है हरीश साल्वे नाम सुना होगा अटोनी जनरल रहे हैं हमारे भारत के, डीएलएफ के चेयरमैन। इंडिया बुल्स के मालिक बहुत से बड़े बड़े नाम क्या कांग्रेसी नेता क्या भाजपाई सब शामिल है । 
Copyright © 2021 Prime Today Media Ventures.
Powered by Viral Vision Media
Follow Us