×
Hindi News >>>एक्सक्लूसिव खबर >>> चौबेपुर में तथाकथित पत्रकारों का बोलबाला , पीड़ित से मांगी 2 लाख की रंगदारी , एसपी ग्रामीण को दी गई तहरीर

एक्सक्लूसिव खबर:चौबेपुर में तथाकथित पत्रकारों का बोलबाला , पीड़ित से मांगी 2 लाख की रंगदारी , एसपी ग्रामीण को दी गई तहरीर

दबंग खनन माफिया ऋषभ शुक्ला जो अपने आप को एक टीवी चैनल का कथित पत्रकार बताता है असल में भूमाफियाओं के साथ उसकी उठा बैठक है और सिर्फ धन उगाही मात्र के उद्देश्य से हमे प्रताड़ित कर रहा है
Ash
Gaurav Kushwaha
Published: 2021-09-20 08:09:15
  • तथाकथित पत्रकारों का क्षेत्र में बोलबाला , अवैध रूप से करते है धन की उगाही
  • कथित पत्रकार ऋषभ शुक्ला पर ग्रामीणों ने लगाए गंभीर आरोप 
  • भवन निर्माण रुकवाने की धमकी दे मांगे 2 लाख 
  • पीड़ित ने दी एसपी ग्रामीण को लिखित तहरीर 


पीटीएन,ब्यूरो : चौबेपुर थाना अंतर्गत किसान पुत्र महेश शर्मा एसपी  ग्रामीण के यहां न्याय की गुहार लगाते-लगाते रो पड़ा, कारण था गाढ़ी खून पसीने की कमाई पर क्षेत्रीय दबंगों और कथित पत्रकार द्वारा 2 लाख रुपए की रंगदारी मांगना।

पीड़ित महेश शर्मा ने एसपी साहब से बताया की गांव का दबंग खनन माफिया ऋषभ शुक्ला जो अपने आप को एक टीवी चैनल का कथित पत्रकार बताता है असल में भूमाफियाओं के साथ उसकी उठा बैठक है और सिर्फ धन उगाही मात्र के उद्देश्य से हमे प्रताड़ित कर रहा है, उसके द्वारा हमे अपनी ही जमीन में रिहाईश के निर्माण करने में तरह-तरह से प्रताड़ित किया जा रहा है ।

कोलकाता से वापस आ महेश बनवा रहा था अपनी गाढ़ी कमाई से घर 

पीड़ित महेश शर्मा कोलकाता से नौकरी कर वापस आया है गांव में नक्शे के तहत अपना घर बनवाया है लेकिन ये इन भूमाफिया को रास नहीं आया तो भवन का निर्माण रुकवा दिया और काम चालू कराने के एवज में दो लाख रुपया महीनें की रंगदारी की मांग करने लगे हैं पीड़ित रंगदारी की मांग किए जाने के विरुद्ध नामित उक्त जनों के खिलाफ थाने में लिखित तहरीर दी है



गलत तरीके से प्रार्थना पत्र दे किया गया अधिकारियो को भ्रमित !

इसके अलावा वे प्रशासनिक अधिकारियों को गलत प्रार्थना पत्र देकर कार्य में समय-समय पर अवरोध भी उत्पन्न करते रहते हैं। जबकि मामले में जरा सी भी सच्चाई नहीं है। ग्राम अमिलिहा थाना चौबेपुर निवासी स्व: नत्यु प्रसाद शर्मा के पुत्र महेश शर्मा का परिवार कई पीढ़ियों से निवास करता चला आ रहा है। चूंकि महेश शर्मा कलकत्ता में काम करते थे,लिहाजा उस समय उनकी जमीन की देखभाल ही होती रही इधर कलकत्ते से लौट कर आने के बाद अपने पुराने जर्जर मकान को गिरा कर उस पड़ी जमीन पर रिहाईश के लिए निर्माण कार्य जारी करा दिया। यह निर्माण कुछ हो भी गया। 

इसी बीच हमारी ही ग्राम सभा के एक मजरे पनऊपुरवा  के ही दबंग ऋषभ शुक्ला ने उप जिलाधिकारी बिल्हौर को यह आरोप लगाकर प्रार्थना पत्र दे दिया कि निर्माण वाली जमीन ग्राम पंचायत की है। जिसमें  पड़ताल हुई तो चूंकि जमीन महेश  शर्मा की साबित होने पर प्रार्थना पत्र देने वाला पक्ष उबल गया और उसने निर्माण कर्ता को धमकाना शुरू कर दिया । 


सीधे मांगी 2 लाख की रंगदारी 

अब वह जान गए हैं कि न्यायिक प्रक्रिया से निर्माण रुकवाना मुश्किल है तो वह महेश शर्मा से सीधे दबंगई पर उतर आए और निर्माण के बदले दो लाख रुपया प्रति माह रंगदारी गुंडाटैक्स की मांग कर रहे है,अब पीड़ित पूरी जिंदगी दूसरे शहर में किसी तरह काम धंधा कर रुपये संगठित कर अपने बुढ़ापे व परिवार की खुशी के लिए रिहाईश अव्वल दर्जे का मकान बनवा रहा है तो आये दिन किसी न किसी प्रकार से व्यवधान डाला जा रहा है।

पूरे मामले पर लिखित तहरीर एसपी ग्रामीण को दे दी गई है अब आगे की कार्यवाही पुलिस को करनी है महेश ने कहा की उन्हे कानून पर पूरा भरोसा है और उसके साथ न्याय होगा !


Copyright © 2021 Prime Today Media Ventures.
Powered by Viral Vision Media
Follow Us