×
Hindi News >>>अपराध >>> कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर की गोरखपुर में पुलिस ने पीट पीट कर दी हत्या, 6 पुलिसकर्मियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज

Gorakhpur:कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर की गोरखपुर में पुलिस ने पीट पीट कर दी हत्या, 6 पुलिसकर्मियों पर हत्या का मुकदमा दर्ज

पुलिस की बर्बरता देखिए कि मनीष को अलग गाड़ी में ले गई और हमें उसके साथ भी नहीं जाने दिया गया,
Ash
Gaurav Kushwaha
Published: 2021-09-29 08:15:10
पीटीएन : अपने दोस्तो के साथ गोरखपुर घूमने गए प्रॉपर्टी डीलर की मामूली सी कहासुनी के बाद पुलिस ने पीट-पीटकर हत्या कर दी, हालत बिगड़ने के बाद प्रॉपर्टी डीलर को पास के ही एक हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया, गोरखपुर पुलिस पूरे मामले को सिर्फ एक हादसा बता रही है।


पूरा मामला कानपुर के बर्रा निवासी मनीष गुप्ता प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं थे मृतक मनीष अपने साथियों के साथ गुड़गांव के हरदीप सिंह चौहान और प्रदीप सिंह चौहान के साथ कार से गोरखपुर गए थे सिकरीगंज के महादेवा बाजार निवासी दोस्त चंदन सैनी और राणा प्रताप चंद ने गोरखपुर घूमने के लिए उन्हें बुलाया था गोरखपुर घूमने पहुंचे दोस्तों के साथ रामगढ़ ताल जाकर में होटल कृष्णा पैलेस का कमरा नंबर 512 बुक किया गया था ,मृतक के दोस्त हरदीप ने बताया कि रात तकरीबन 12:30 बजे पुलिस होटल में चेकिंग करने पहुंची और हमें सोते हुए जगा दिया गया जिस पर मनीष ने सिर्फ ये पूछ लिया कि क्या हम आतंकी हैं जो आप इस तरह से चेकिंग कर रहे हैं इस पर पुलिस वालों ने मनीष को जबरन पीटना शुरू कर दिया चोट लगने से मनीष में गिर गया, उसके सर से काफी खून बह रहा था फिर भी पुलिस ने अस्पताल ले जाना उचित नहीं समझा और हमें डराते धमकाते रहे हालत ज्यादा बिगड़ी और बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया जहां रास्ते में ही उसकी मौत हो गई, पुलिस की बर्बरता देखिए कि मनीष को अलग गाड़ी में ले गई और हमें उसके साथ भी नहीं जाने दिया गया


पहले पुलिस बताती रही हादसा बाद में पत्नी के तहरीर पर दर्ज किया हत्या का मुकदमा


करीब 3 से 4 घंटे तक गोरखपुर डीएम और एसएसपी पत्नी मीनाक्षी से मामले को तुलना देने को लेकर बात करते रहे लेकिन जब पत्नी नहीं मानी और धरने पर बैठ गई तब जाकर पुलिस वालों पर हत्या के मामले पर मुकदमा दर्ज किया गया है यहीं से आप पुलिस की शिथिल कार्यशैली पूरी तरह से समझ सकते हैं।


इन पर दर्ज हुआ मुकदमा 


मामला बढ़ने पर एसएसपी विपिन ताड़ा ने इंस्पेक्टर (तारामंडल ) जे एन सिंह ,चौकी इंचार्ज अक्षय मिश्रा सब इंस्पेक्टर विजय यादव पर नामजद व 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करते हुए सस्पेंड कर दिया है , मनीष की मौत का कारण भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट लगना बताई गई है ।


परिवार का अकेला सहारा था मनीष 


अपने बूढ़े मां बाप और हस्ते खेलते परिवार का इकलौता सहारा था मनीष , पत्नी मीनाक्षी ने रोते हुए अपराधियों को कड़ी सजा दिलाने की गुहार लगाती रही ।


मुख्यमंत्री ने परिजनों से की बात 10 लाख की दी मदद 


इस गंभीर प्रकरण पर मुख्यमंत्री ने परिजनों से बात की और बात करने के बाद 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद भी परिजनों को दी पूरे मामले पर जांच कर दोषियों के विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही किए जाने का भी आश्वासन मुख्यमंत्री द्वारा परिजनों को दिया गया ।


पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर  कसा तंज , बताया जंगलराज 

Copyright © 2021 Prime Today Media Ventures.
Powered by Viral Vision Media
Follow Us