×
Hindi News >>>शिक्षा >>> दो बहनें एक साथ पढ़ रहीं तो एक की फीस माफ करें निजी स्कूल : मुख्यमंत्री

शिक्षा:दो बहनें एक साथ पढ़ रहीं तो एक की फीस माफ करें निजी स्कूल : मुख्यमंत्री

उन्होंने कहा कि बालिका शिक्षा पर हमने बड़ी योजना तैयार कर ली है। उन्होंने कहा कि निजी स्कूल में अगर एक ही घर से दो बहने पढ़ती हैं तो अभिभावक स्कूल में एक की फीस माफ करने की अपील करें।
Ash
Prime Today Desk
Published: 2021-10-02 13:17:23
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बेटियों को शिक्षा का अनूठा उपहार दिया। निजी स्कूलों में पढ़ने वाली एक परिवार की दो बेटियों में से एक की फीस माफ करने को कहा है। अगर निजी स्कूल ऐसा नहीं करते तो सम्बंधित विभाग एक छात्रा की फीस की व्यवस्था करे। गांधी जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में तो उनका लगभग नि:शुल्क पठन-पाठन का काम हो रहा है।अब हम एक और कदम आगे बढ़ रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि बालिका शिक्षा पर हमने बड़ी योजना तैयार कर ली है। उन्होंने कहा कि निजी स्कूल में अगर एक ही घर से दो बहने पढ़ती हैं तो अभिभावक स्कूल में एक की फीस माफ करने की अपील करें। उनकी अपील पर भी अगर निजी स्कूल ऐसा नहीं करते तो शिक्षा विभाग फीस भरने की व्यवस्था करेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में बहुत लोग फीस भरने में असमर्थ हैं, इससे उनको मदद मिलेगी। केन्द्र के साथ यूपी सरकार भी किसी को किसी भी प्रकार की सुविधा से वंचित नहीं रहने देगी।

गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को लोक भवन में पूर्वदशम और दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना 2020-21 के तहत 1, 51, 215 मेधावी छात्रों को 177.35 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति का ऑनलाइन हस्तांतरण किया। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित बड़ी संख्या में मंत्री और अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान सीएम ने योजना के 10 लाभार्थी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रमाण पत्र भी दिए।

योगी ने कार्यक्रम में अधिकारियों को निर्देश दिए कि 30 नवंबर तक पात्र सभी छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान कर दी जाए। छात्रवृत्ति योजना छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन में मदद करेगी। 
Copyright © 2021 Prime Today Media Ventures.
Powered by Viral Vision Media
Follow Us